breaking news New

रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय का प्रभार, बिना पोर्टफोलियो के मंत्री बने रहेंगे अरुण जेटली

रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय का प्रभार, बिना पोर्टफोलियो के मंत्री बने रहेंगे अरुण जेटली

National News - रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार बुधवार को सौंपा गया. वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) अमेरिका में कैंसर का इलाज करा रहे हैं इसलिए केंद्र की मोदी सरकार ने यह क़दम उठाया है। सूत्रों के मुताबिक, अरुण जेटली का आपरेशन हुआ। उन्हें दो सप्ताह आराम की सलाह दी गई है। 

रेल मंत्री पीयूष गोयल को बुधवार को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंप दिया गया। अरुण जेटली अस्वस्थ हैं और इलाज के लिए विदेश में हैं, इस वजह से उनके मंत्रालयों का प्रभार गोयल को दिया गया है। 

केंद्र सरकार की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘प्रधानमंत्री की सलाह के बाद भारत के राष्ट्रपति ने अरुण जेटली की अनुपस्थिति तक पीयूष गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अस्थायी कार्यभार सौंपने का निर्देश दिया है.’

विज्ञप्ति के अनुसार, जब तक अरुण जेटली स्वस्थ नहीं हो जाते तब तक वह बिना मंत्रालय के मंत्री बने रहेंगे.

मालूम हो कि पीयूष गोयल को दूसरी बार वित्त मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया है. इसके पहले पिछले साल मई में अरुण जेटली के किडनी ट्रांसप्लांट के समय भी गोयल ने कुछ दिनों तक रेल के साथ वित्त मंत्रालय संभाला था.

सुरेश प्रभु के मंत्रालय छोड़ने के बाद उन्हें इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई थी। अब उन्हें वित्त मंत्रालय का का अतिरिक्त प्रभार भी दे दिया गया है।