breaking news New

भारत बचाओं रैली थी या भारत जलावो षड्यंत्र, जांच होनी चाहिए: भाजपा

भारत बचाओं रैली थी या भारत जलावो षड्यंत्र, जांच होनी चाहिए: भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने प्रदेश सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिक युनिवर्सिटी की आड़ में फैले उन्माद में छत्तीसगढ़ सरकार और प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारियों की भूमिका को भी जांच के दायरे में लिया जाना चाहिए। श्री उपासने के मुताबिक हाल ही दिल्ली रैली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सीएए-एनआरसी मुद्दे पर देशभर के लोगों से विरोध प्रदर्शन के लिए अपील की थी। ‘नकली गांधी परिवार’ की भक्ति और परिक्रमा करके राजनीतिक मूल्यों से खिलवाड़ कर रहे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने छत्तीसगढ़ के कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जामिया का स्टूडेंट बताकर दिल्ली भेजा और उन्माद को फैलाने में सहयोग किया। इस मामले में अन्य प्रदेश के कांग्रेस के एक पूर्व विधायक की संलिप्तता की जानकारी भी टी.वी. समाचारों से मिली है। केन्द्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस को भी छत्तीसगढ़ कांग्रेस से जुड़े इस मामले की बारीकी से जांच करनी चाहिए और प्रदेश के मुख्यमंत्री सहित अन्य सत्ताधीशों व कांग्रेस नेताओं की भूमिका को भी जांच के दायरे में लाना चाहिए। सवाल उठता है कि क्या कांग्रेस रैली में प्रदेश से सात हजार लोगों को इसी उन्माद को फैलाने के लिए ले जाया गया था?