breaking news New

11 दिवसीय धार्मिक आयोजन का 51108 हनुमान चालीसा पाठ के साथ हुआ समापन

11 दिवसीय धार्मिक आयोजन का 51108 हनुमान चालीसा पाठ के साथ हुआ समापन

 नगर की सामाजिक एवं धार्मिक संस्था श्री सालासर सुंदरकांड जनकल्याण एवं हनुमान चालीसा समिति ने प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 22 दिसंबर से 1 जनवरी 2020 तक 11 दिवसीय विभिन्‍न धार्मिक आयोजन जनसहयोग से किया। स्था के संस्थापक राजू काबरा एवं अध्यक्ष रुपेन्द्र चंद्राकर ने बताया कि हर वर्ष इस प्रकार के आयोजन समिति करती है लेकिन इस वर्ष पहली बार 11 दिन का आयोजन किया गया जिसमें 9 दिन विशाल संगीतमय श्रीराम कथा का आयोजन, जिसमें अंतर्राष्ट्रीय वक्‍ता दीदी हेमलता शास्त्री ने अपनी मधुर वाणी से रामकथा के साथ नशा मुक्‍ति अभियान, महिलाओं पर हो रहे अत्याचार, राम जैसे आचरण, परिवार में विघटन, गौ माता, राष्ट्रभक्‍ति पर अपने संदेश से उपस्थित जनसमुदाय को संदेश दिया। उन्होंने कहा कि धर्म जागता रहेगा तो दया, संस्कार, राष्ट्रभक्‍ति रहेगी और भारत विश्‍व गुरु वापस बन सकता है। सीता स्वयंवर के अवसर पर 7 निर्धन कन्याओं का अनूठा विवाह कराया। इसके साथ ही दूरदर्शन कलाकार फूलसिंग कन्‍नौजे ने शिव विवाह की कथा का इतना सुंदर वर्णन किया, उनकी प्रस्तुति को देखकर लोग हंसते-हंसते पेट पकड़कर लोटपोट होने लगे। जादूगर ए.लाल, औरंगाबाद ने हैरत अंगेज जादू दिखाकर हंसते-हंसाते लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। संगीतमय सुंदरकांड का पाठ हुआ साथ ही नववर्ष के आगमन पर आज की युवा पीढ़ी आज की पीढ़ी पाश्‍चात्य संस्कृति को अपना रही है। इसी को धर्म की ओर मोड़ने के लिए आज 10 वर्षों से समिति ने एक अभियान चलाया कि नव वर्ष में हम अपने परिवार, व्यापार, राष्ट्र के लिए प्रभु से प्रार्थना करें और घर-घर जाकर लोगों को हनुमान चालीसा के माध्यम से जोड़ने का प्रयास किया। हनुमान चालीसा के प्रति विशेषकर महिलाओं में भय समाया था जिसकी सफलता आज नववर्ष पर अपार भीड़ का शामिल होना दर्शा गया कि लोग वापस भारतीय संस्कृति की ओर मुड़ रहे हैं।

आज लगभग 2000 भक्जनों ने संगीत के मध्य, हवन कुंड में प्रत्येक पाठ की आहुति डालकर सभी के लिए मंगल कामना की । मंदिर के पुजारी रविशंकर गौतम स्वाहा का उच्चारण कर घी की आहुति दे रहे थे। संस्था के सदस्य आज की भीड़ को देखकर मंत्रमुग्ध हो गये और जन मानस का प्रेम देखकर नाचने झूमने लगे जिसमें पवन यदु, कमलेश सौरज, नंदकिशोर राठी, ओमप्रकाश शर्मा, संतोष अग्रवाल, नेमी, धरम, संतोष, मोहित, भूपेन्द्र, गुलाब, निखिल, पप्पू साहू, कृष्णा यदु, पंकज, भोला निषाद, गिरधारी सेन, मोहन, सुमित पंजवानी एवं हनुमान चालीसा सामिति के सदस्य अध्यक्ष भारती, मोहिनी, पिंगी, यामिनी, लक्ष्मी, पुष्पलता, छाया साहू, रानी, के.के.निषाद, श्रीमती आरती काबरा, कविता इसरानी आदि सदस्यों की टीम भावना से कार्य कर पूरे अंचल में लोगों के दिलों में छाप छोड़ गया। आज के इस आयोजन को देखकर राधाकृष्ण मंदिर के सर्वराकार मोहनलाल अग्रवाल एवं ट्रस्टी गोपाल, गिरधारी अग्रवाल ने दोनों समिति के सदस्यों को शाल श्रीफल भेंट किया। हनुमान चालीसा में दूर-दूर से भक्‍त जब शामिल होने आये थे जिसमें रायपुर, जगदलपुर, सुकमा, कुरुद, महासमुंद, रीवा, नारा, भानसोज, छांटा, परखंदा, मगरलोड, पारागांव, टीला, राजिम, नवापारा आदि 21 जगहों से भक्‍तगण आये थे। संस्था के संस्थापक राजू काबरा ने इस विशाल आयोजन के लिए नवापारा एवं अंचल से पधारे सभी भक्‍तजनों का धन्यवाद करते हुए कहा कि हमारी संस्था से कोई गल्ती हुई हो तो उसे अपना समझकर माफ कर देना एवं नववर्ष की बधाई देते हुए सभी के सुखी जीवन की मंगलकामना की एवं कहा कि 2020 दिसंबर में विशाल शिव महापुराण का आयोजन होगा जिसमें आप सभी का भरपूर सहयोग मिलेगा ऐसी कामना करते हैं।