breaking news New

Chhattisgarh News : नगर पंचायत में अध्यक्ष बनाने कांग्रेस ने उतारे दिग्गज

Chhattisgarh News : नगर पंचायत में अध्यक्ष बनाने कांग्रेस ने उतारे दिग्गज

रायपुर। Chhattisgarh News छत्तीसगढ़ में नगर निगम और नगर पालिका में प्रभारियों की घोषणा के बाद अब कांग्रेस ने 103 नगर पंचायत के प्रभारी की घोषणा की है। नगरी निकाय चुनाव में पार्षदों की संख्या में बढ़त बनाने के बाद रणनीतिक रूप से भी कांग्रेस ने प्रभारियों की घोषणा करके भाजपा पर बढ़त हासिल की है। प्रदेश महामंत्री शैलेष नितिन त्रिवेदी ने कहा कि कांग्रेस के पर्यवेक्षकों की सूची पहले जारी होने से बेहतर प्रबंन और रणनीतिक तैयारी हो सकेगी। भाजपा ने सोमवार को नगर निगमों के पर्यवेक्षकों की सूची जारी की है। जबकि कांग्रेस के पर्यवेक्षक पहुंचकर कांग्रेस के पार्षदों और स्थानीय नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं। त्रिवेदी ने कहा कि कांग्रेस को भाजपा पर पार्षदों की संख्या के बाद मनोवैज्ञानिक बढ़त और रणनीतिक पहल का भी लाभ मिलेगा।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के निर्देशानुसार नगरीय निकाय चुनाव 2019 नियुक्त पर्यवेक्षकों की सूची में संशोधन किया गया है। जगदलपुर नगर निगम में कवासी लखमा के स्थान पर ताम्रध्वज साहू को पर्यवेक्षक बनाया गया है। धमतरी नगर निगम में अग्नि चंद्राकर के स्थान पर कवासी लखमा और गरियाबंद नगर पालिका के लिए इंदरचंद के स्थान पर मदन तालेड़ा को पर्यवेक्षक बनाया गया है। त्रिवेदी ने कहा कि पंचायत चुनाव में भी कांग्रेस को भारी बहुमत मिलेगा। भाजपा की सरकार ने गांव में रहने वाले निरक्षर लोगों को चुनाव लड़ने से वंचित रखने की साजिश रची।

पंचायत जनप्रतिनिधियों के लिए शिक्षा की योग्यता रखी जबकि सांसद और विधायक बनने के लिए कोई शैक्षणिक योग्यता नहीं है। सुदूर अंचलों में यहां शिक्षा का प्रचार-प्रसार नहीं हुआ, वहां योग्यता रखने वाले गांव के विकास की समझ रखने वाले योग्य उम्मीदवारों को शैक्षणिक योग्यता की इस अनिवार्यता के कारण पंच, सरपंच, जनपद सदस्य बनने से वंचित होना पड़ा। कांग्रेस की सरकार ने इस अनिवार्यता को पूरी तरीके से समाप्त कर दिया है।