breaking news New

जो व्यक्ति मानवीय संवेदनाओं के साथ देश-समाज की सेवा करता है, उसे सफलता अवश्य मिलती है : सुश्री उइके

जो व्यक्ति मानवीय संवेदनाओं के साथ देश-समाज की सेवा करता है, उसे सफलता अवश्य मिलती है : सुश्री उइके

रायपुर| राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके छिन्दवाड़ा जिले के जुन्नारदेव में आयोजित सम्मान समारोह में शामिल हुई। उन्होंने सभी को दीपावली और भाईदूज की शुभकामनाएं दी और कहा कि इस क्षेत्र से उनका पुराना संबंध रहा है। इस क्षेत्र से समाज सेवा की प्रेरणा मिली। ये प्रेरणा इस मोड़ तक ले जाएगी उन्होंने कभी कल्पना नहीं की थी। व्यक्ति को अपने हृदय में मानवीय दृष्टिकोण लेकर चलना चाहिए और सदैव समाज के हित के लिए कार्य करना चाहिए। उनके जीवन का अनुभव रहा है कि जो व्यक्ति मानवीय संवेदनाओं के साथ देश और समाज की सेवा करता हैउसे सफलता अवश्य मिलती है। उन्होंने कहा कि जीवन में विपरीत परिस्थितियों में वे विचलित नहीं हुई। किसी के प्रति द्वेष भावना रखकर उन्होंने कभी काम नहीं किया। सुश्री उइके ने कहा कि छत्तीसगढ़ के राज्यपाल के तौर पर उनका प्रयास रहता है कि जो भी दुखी-जरूरतमंद राजभवन आएतो उनकी समस्या का समाधान करने का हरसंभव प्रयास किया जाए। राज्यपाल सुश्री उइके ने युवा शक्ति मां काली पूजा समिति के पूजा पंडाल भी पहुंची और माता महाकाली की पूजा-अर्चना की। 

राज्यपाल कवि सम्मेलन में शामिल हुई :- राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके छिंदवाड़ा जिले के दमुआ में श्रीश्री काली पूजा उत्सव समिति द्वारा आयोजित कवि सम्मेलन में शामिल हुई। उन्होंने कहा कि इस आयोजन के लिए मैं आयोजकों को बहुत-बहुत बधाई देती हूं। साहित्य जगत में ऐसा माना जाता है कि कविता में संपूर्ण रसों का संग्रह मिलता है। कविता के माध्यम से कोई भी व्यक्ति अपनी भावनाओं की अभिव्यक्ति करता है। कवि समाज की स्थिति का चित्रण भी करते हैं। कार्यक्रम में संबंधित क्षेत्र के गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।