breaking news New

नए साल में बंद हो आपके जाएंगे डेबिट और क्रेडिट कार्ड- बैंक की अपील पर ध्यान दें

नए साल में बंद हो आपके जाएंगे डेबिट और क्रेडिट कार्ड- बैंक की अपील पर ध्यान दें

ऑन लाइन फ्रॉड की बढ़ती धटना पर रोक लगाने के लिए बैंकों की तरफ से जरुरी उपाय किये जा रहे हैं। जिसके लिए बैंकों की तरफ से अपने-अपने ग्राहकों एसएमएस के जरिये ग्राहकों को ये बताया जा रहा है कि 1 जनवरी को आपके क्रेडिट और डेबिट कार्ड बंद हो जाएंगे। प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर के बैंक ग्राहकों से नए क्रेडिट और डेबिट कार्ड इश्यू करवाने के लिए भी कहा जा रहा है।

दरअसल आरबीआई की गाइडलाइन के मुताबिक 31 दिसंबर के बाद मैग्नेटिक स्ट्राइप वाला कार्ड काम करना बंद कर देगा। इसकी जगह पर देशभर में EMV चिप वाले कार्ड चलन में आएंगे। मौजूदा वक्त में मैग्नेटिक स्ट्राइप और EMV चिप दोनों तरह के कार्ड चलन में हैं।

आरबीआई का मानना है कि सुरक्षा के लिहाज से मैग्नेटिक स्ट्राइप वाले कार्ड सही नहीं हैं। इसलिए बैंकों को EMV चिप वाले एटीएम या क्रेडिट कार्ड देना शुरु किया गया है। अगर आपके पास भी मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड हैं तो उसे चिप वाले कार्ड से रिप्लेस करवा लें। इसके लिए बैंकों की तरफ से किसी तरह की फीस नहीं ली जा रही है।

वहीं चेकबुक में भी 1 जनवरी 2019 से बदलाव हो रहे हैं। आरबीआई ने तीन महीने पहले ही बैंकों को निर्देश दिया था कि 1 जनवरी से नॉन सीटीएस चेकबुक का प्रयोग बंद कर दें। आरबीआई के इस निर्देश के बाद बैंकों की तरफ से अपने ग्राहकों से अपील भी की गई है।

दरअसल सीटीएस यानि चेक ट्रंकेशन सिस्टम के तहत चेक की एक इलेक्ट्रॉनिक इमेज कैप्चर हो जाती है। इससे ये सुविधा होती है कि फिजिकल चेक को एक बैंक से दूसरे बैंक क्लियरेंस के लिए भेजने की जरुरत नहीं होती है। जबकि नॉन सीटीएस चेक कंप्यूटर द्वारा रीड नहीं किये जा सकते हैं। इस वजह से क्लीयरेंस के लिए चेक को फिजिकली एक बैंक से दूसरे बैंक भेजना पड़ता है। जिसमें काफी वक्त लग जाता है।