breaking news New

कोरोना वायरस: देश में नए स्ट्रेन के मरीजों की सात संख्या हुई, इंग्लैंड से लौटी मेरठ की दो साल की बच्ची पॉजिटिव

कोरोना वायरस: देश में नए स्ट्रेन के मरीजों की सात संख्या हुई, इंग्लैंड से लौटी मेरठ की दो साल की बच्ची पॉजिटिव

नई दिल्ली: देश में कोरोना के नए स्ट्रेन से संक्रमितों की संख्या बढ़कर सात हो गई. उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में इंग्लैंड से लौटी दो साल की बच्ची में कोरोना का ना स्ट्रेन पाया गया है. फिलहाल एहतियात के तौर पर इलाके को सील कर दिया गया है. जिले में नया स्ट्रेन मिलने के बाद से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मची है.


मेरठ के थाना टीपीनगर की संत विहार कॉलोनी में लंदन से लौटे एक परिवार कि दो साल की बच्ची में कोरोना का नया स्ट्रेन पाया गया. यह बच्ची अपने माता पिता और एक भाई के साथ लंदन से लौटी थी. बच्ची के मां-बाप की रिपोर्ट निगेटिव आयी है एक और महिला की रिपोर्ट भी निगेटिव आयी है. मेरठ के स्वास्थ्य विभाग ने लंदन से लौटे 4 यात्रियों में कोरोना की पुष्टि के बाद सैंपल दिल्ली भेजे थे.


बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद कुछ 100 लोगों की जांच कराई गई, इनमें से 70 की एंटीजन रिपोर्ट निगेटिव आई. पूरे इलाके को किया गया है. सीएमओ डॉ अखिलेश मोहन ने इसे लेकर कि घबराने की जरूरत नहीं है, पूरा स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है, कुछ दिनों में लंदन से मेरठ 90 यात्री लौट हैं.


बता दें कि ब्रिटेन में मिला कोरोना का यह नया स्ट्रेन 70% ज्यादा तेजी से फैलता है. इससे पहले 6 लोगों में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला था. ये सभी 6 लोग ब्रिटेन की यात्रा से वापस देश लौटे हैं. वहीं जिन लोगों में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला है, उन्हें आइसोलेट किया गया है और उनके संपर्क में आए लोगों की पहचान की जा रही है.


किन देशों में मिला नया स्ट्रेन?
बता दें कि कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की सबसे पहले ब्रिटेन में पुष्टि हुई थी. इसके बाद अब तक यह कई देशों में फैल चुका है. कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के मामले ब्रिटेन के अलावा अब भारत, स्पेन, स्वीडन, स्विटजरलैंड, फ्रांस, डेनमार्क, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड्स, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, जापान, लेबनान, सिंगापुर और नाइजीरिया में भी सामने आ चुके हैं. वहीं दक्षिण अफ्रीका में भी कोरोना वायरस का एक नया स्ट्रेन मिला है. यह ब्रिटेन के नए स्ट्रेन से अलग है.

पहले से ज्यादा संक्रामक
कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के कारण लोगों की चिंताएं बढ़ी है. इसके पीछे सबसे बड़ी वजह ये है कि वायरस का ये स्ट्रेन काफी तेजी से फैलता है और लोगों को जल्दी संक्रमित करता है. इसके म्यूटेशन से वायरस के उन हिस्सों में बदलाव देखने को मिला है जो इंसान की कोशिकाओं पर असर डालते हैं. कुछ म्यूटेशन के कारण वायरस की इंसानी कोशिकाओं को संक्रमित करने की क्षमता बढ़ जाती है. कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन 70 फीसदी ज्यादा संक्रामक है.


उत्तरप्रदेश में कोरोना से अब तक 8340 की मौत
उत्तरप्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमित 18 और लोगों की मौत हो गई तथा 1044 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई. स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंगलवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में कोविड-19 से 18 और लोगों की मौत हो गई. इसके साथ ही राज्य में इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 8340 हो गई है.


पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 1044 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है. इनमें सबसे ज्यादा 194 नए मरीज राजधानी लखनऊ में मिले हैं. इसके अलावा प्रयागराज में 60, गाजियाबाद में 59 तथा सहारनपुर में 56 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है.

Latest Videos