breaking news New

Atal Bhujal Yojana की PM Modi ने की शुरुआत, जानिए क्या है यह और कैसे होगा फायदा

Atal Bhujal Yojana की PM Modi ने की शुरुआत, जानिए क्या है यह और कैसे होगा फायदा

Atal Bhujal Yojana : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राजधानी के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में अटल भूजल योजना (Atal Bhujal Yojana) की शुरुआत की। एक दिन पहले ही पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुए केंद्रीय कैबिनेट ने 6,000 करोड़ रुपए की इस योजना को मंजूरी दे दी है। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र में भूजल प्रबंधन को बढ़ावा देना है। कुल मिलाकर 7 राज्यों के 8,350 गांवों को इसका लाभ मिलेगा। इन राज्यों में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान और कर्नाटक शामिल हैं। साथ ही इससे किसानों की आमदनी दोगुनी करने में भी मदद करेगी। जानिए Atal Bhujal Yojana के बारे में 

- Atal Bhujal Yojana पांच साल के लिए है। सरकार का उद्देश्य 2020-21 से 2024-25 तक गांवों में भूजल का प्रबंधन करना है। 6,000 करोड़ की इस योजना की आधी रकम वर्ल्ड बैंक से कर्ज के रूप में होगी, जिसे केंद्र सरकार अदा करेगी। शेष आधी राशि सामान्य बजट में केंद्रीय मदद के तौर पर उपलब्ध कराई जाएगी।

- योजना पर दो तरह से काम होगा। पहला - राज्यों में भूजल प्रबंधन के लिए व्यवस्था को मजबूत करना, नेटवर्क की निगरानी करना और जल उपभोक्ता संगठनों को तैयार करना है। दूसरा - भूजल प्रबंधन का बेहतर अभ्यास, जल संरक्षण योजना, मौजूदा योजनाओं में प्रंबधन को लागू करना तथा मांग प्रंबधन के अभ्यास को स्वीकार करना है।

रोहतांग दर्रा सुरंग को वाजपेयी का नाम : इसी कार्यक्रम में पीएम मोदी ने ऐलान किया कि रोहतांग दर्रे के नीचे बनने वाली सामरिक महत्व की सुरंग को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर किया गया है। इस सुरंग को बनाने का निर्णय तीन जून, 2000 को लिया गया था, तब वाजपेयी प्रधानमंत्री थे।